आत्महत्या मामले में पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जबरदस्ती धरना खत्म करने का बनाया दबाब

युवक की आत्महत्या का मामले में पिता के साथ धरने पर बैठे गांव के लोग दरोगा सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार करने की उठाई मांग।

ASP लखन सिंह, SO हरीपर्वत अरविंद कुमार, SO सिकंदरा विनोद कुमार ने मौके पर पहुंचकर परिवार पर जबरदस्ती धरना खत्म करने का बनाया दबाब।

सिकंदरा के मंगरौल गूजर निवासी कृष्ण मुरारी सिंह ने 1 नवंबर को फेसबुक पर लाइव आकर ट्रेन से खुदकुशी की थी। वीडियो में उसने एसआई केशव शांडिल्य और अपने रिश्तेदार लाखन सिंह, मोनू और लज्जा को खुदकुशी के लिए जिम्मेदार बताया था। SI पर रिश्तेदारों के साथ मिलकर झूठे केस में फंसाने का आरोप लगाया था। वीडियो वायरल होने के बाद दरोगा समेत अन्य सभी के खिलाफ खुदकुशी को दुष्प्रेरित करने की धारा में मुकदमा दर्ज हुआ था।

कृष्ण मुरारी आर्मी में फिजिकल पास कर चुका था, झूठा मुकदमा लगने के कारण वह अपने सपने को टूटता हुआ ना देख पाया और खुदकुशी कर ली। कृष्ण मुरारी बहुत ही गरीब परिवार का बेटा था, कृष्ण मुरारी के पिता पेशे से मजदूर हैं।

ब्लॉक के सभी ग्राम प्रधान पीड़ित परिवार के साथ हैं अभी तक पुलिस ने एक भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया है।

संवाददाता मुकुल शर्मा

Leave a Reply

Your email address will not be published.