सेंट एंथोनी ने रोकी लड़की की क्लास, शासनादेश का उलंघन करते हुए जबरन बुला रहे हैं स्कूल, माता पिता नही है राजी.

उत्तर प्रदेश के शासनादेश के मुताबिक बालूगंज स्थित सेंट एंथनी स्कूल अपना कार्य नहीं कर रहा है कई अभिभावकों से एकमुश्त फीस जमा करने का दबाव बनाया जा रहा है साथ ही जो अभिभावक अभी कोरोना व डेंगू प्रकोप के चलते अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजना चाहते हैं उनके बच्चों को भी जबरन स्कूल आने के लिए मजबूर किया जा रहा है.

आज बड़ी संख्या में अभिभावक, एंथोनी स्कूल के गेट पर पहुँचे तो उन्हें स्कूल के अंदर प्रवेश करने से मना कर दिया गया, छुट्टी का समय होते होते जैसे तैसे अभिभावक अंदर प्रवेश कर गए तो स्कूल प्रबंधन ने स्कूल के गेट को बंद करवा दिया और पुलिस को बुला लिया, रकाबगंज थाने से आए इंस्पेक्टर चित्र कुमार ने स्कूल वालों का पक्ष लेते हुए अभिभावकों को हड़काना शुरू कर दिया जिससे वहां मौजूद महिलाएं आवेश में आ गई और पुलिस पर स्कूल प्रबंधन के साथ मिलीभगत होने का आरोप लगाया, वहीं पर मौजूद एक अभिभावक शैलेंद्र कुमार की बिटिया की क्लास बंद कर दी गई है, अभिभावक शैलेन्द्र द्वारा शासन आदेश की कॉपी इस्पेक्टर साहब को दिखाए जाने पर इंस्पेक्टर साहब ने अभिभावक को ही झिड़क दिया और कहा कि ये सब कागज़ अधिकारियों को दिखाओ जाकर मुझे नहीं और जहां शिकायत करनी है वहां शिकायत करो जाकर.

पापा संस्था की जिला सह संयोजक आगरा, राखी सिंह ने स्कूल प्रबंधन की कार्यप्रणाली और पुलिस की भाषा शैली का विरोध किया और कहां कि यह लोग अभिभावकों से बात करने का तरीका भी नहीं जानते बच्चों को शिक्षा क्या देते होंगे, राखी सिंह ने 2 दिन का अल्टीमेटम जारी करते हुए स्कूल प्रबंधन को चेतावनी दी है कि स्कूल प्रबंधन शासनादेश के मुताबिक ही अपना कार्य करें अन्यथा दो दिन के बाद टीम पापा के राष्ट्रीय संयोजक दीपक सिंह सरीन के नेतृत्व में स्कूल के सैकड़ों अभिभावक स्कूल के गेट पर धरना प्रदर्शन करेंगे.

आज के कार्यक्रम में सर्व श्री एम एस पंवार, डॉक्टर वेदांत, स्वेता मदान, अरुण शर्मा, नीतू वर्मा, श्वेता मिश्रा, नितिन गुप्ता, योगिता दवेदी, कृति त्रिवेदी, तनिका माहेष्वरी, मयंक अग्रवाल आदि शामिल रहे.

संवाददाता : डॉ मनोज गुप्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published.