राजस्थान के मेहंदीपुर बालाजी मंदिर के मुख्य महंत का रविवार को निधन

राजस्थान के मेहंदीपुर बालाजी मंदिर के मुख्य महंत का रविवार को निधन हो गया। मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए बंद कर दिए गए हैं।
मेहंदीपुर बालाजी मंदिर के मुख्य महंत किशोरपुरी महाराज का आज दोपहर जयपुर में निधन हो गया। पिछले काफी समय से वह बीमार चल रहे थे। तबियत बिगड़ने पर जयपुर के इटरनल हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था। आज दोपहर को उन्होंने अपने घर पर अंतिम सांस ली। वह 88 साल के थे।
महंत किशोरीपुरी के चेस्ट में इंफेक्शन समेत कई बीमारियां थीं। उनके पार्थिव शरीर को जयपुर से मेहंदीपुर बालाजी लाया जाएगा। संत परंपरा के मुताबिक उन्हें समाधि दी जाएगी। निधन की सूचना पर बालाजी कस्बे में शोक फैल गया। दुकानें बंद कर दी गईं। दर्शनार्थियों के लिए मंदिर के पट बंद कर दिए गए हैं। व्यापारी दुकानें बंद कर मंदिर परिसर में पहुंच गए हैं। अंतिम दर्शन के लिए इंतजार कर रहे हैं।

महिला शिक्षा के कामों में लगे थे
1944 में जन्मे किशोरपुरी अपने सामाजिक कामों के चलते विशेष पहचान रखते थे। करीब 55 साल पहले उन्होंने मेहंदीपुर बालाजी के महंत की गद्दी ग्रहण की थी। किशोरपुरी ने बालिका शिक्षा को बढावा देने के लिए प्राथमिक से लेकर पीजी कॉलेज, संस्कृत कॉलेज और आईटी कॉलेज की स्थापना की। वह महिला कॉलेज की स्थापना की कोशिश में लगे थे।

संवाददाता डॉ मनोज गुप्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published.