आज विश्व बाल दिवस पर शुक्रवार को आगरा मे इशिका बंसल को एक दिन का थाना प्रभारी बनाया गया_

थाना – हरीपर्वत (आगरा)

आज विश्व बाल दिवस पर शुक्रवार को आगरा मे इशिका बंसल को एक दिन का थाना प्रभारी बनाया गया__

एक दिन के लिए इशिका को हरीपर्वत थाने का थानाध्यक्ष बनाया गया है। वह आज दिनभर पुलिस के साथ रहेंगी। मिशन शक्ति अभियान के तहत हर जिले मे, एक थाने मे, छात्रा को एक दिन का थानेदार बनाया जा रहा है।

डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने हर जिले के एक-एक थाने मे एक दिन के लिए छात्राओं को थानेदार बनाए जाने के निर्देश दिए थे। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि हरीपर्वत थाने का एक दिन का चार्ज इशिका बंसल को इसके लिए फाइनल किया गया है।

इशिका परिवार के साथ कमला नगर मे रहती हैं। इशिका बंसल की कई पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। उन्होंने अपनी पहली किताब सातवीं क्लास में पढ़ाई के दौरान लिखी थी। कवि डा. कुमार विश्वास, दिल्ली के कवि हरीश अरोड़ा, आगरा के गजलकार अशोक रावत समेत कई कवियों की हिंदी कविताओं का अंग्रेजी अनुवाद कर चुकी हैं। अब वे एक दिन थाने की पुलिसिंग करेंगी। आज सुबह नौ बजे वे थाने पहुंच गईं । जिसके बाद उनके गेस्ट थानेदार बनने का तस्करा जीडी मे डाल दिया गया।
इसके बाद थाने का रुटीन काम शुरू हो गया। थाने की पुलिसिंग देखने के बाद गेस्ट थानेदार इशिका पुलिस गाड़ी से क्षेत्र मे भ्रमण को भी निकलीं।
शाम तक वे थाने में रहकर पुलिस की कार्यशैली को बारीकी से देखेंगी। एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि कार्यक्रम का उद्देश्य छात्राओं को यह संदेश देना है कि पुलिस उनकी मदद के लिए है। वह पुलिस से घबराएं नहीं। पुलिस कैसे काम करती है ?
यह अनुभव करके इशिका अपने साथ की छात्राओं को बताए। जहां भी जाए उनका मनोबल बढ़ाए।
एक दिन की पुलिसिंग के बाद पुलिस भी इशिका से पुलिसिंग मे और सुधार को सुझाव मांगे जाएंगे !

मनोज गुप्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published.